[110+] Best chai shayari in hindi | with hd chai shayari images

Introduction

Hello friends, today we have brought back for you a new and better blog post called chai shayari in hindi So in this post you will get to see some unique chai par shayari So friends, tea is an undivided part of our society, we always use tea in our daily days.

So, let me tell you that in this blog post we are going to tell you about some such shayari that you have never heard in your life.

 Some of the shayari of this chai par shayari have written by big writers like Rahat Indori, Kumar Vishwas etc. Friends, our morning opens with chai and evening is also with chai, so our team has brought this lovely chai shayari in hindi post for you. 

 Chai ke diwano ke liye chuninda chai shayari

Let's start

 दोस्ती के उन खोये हुए पलों को फिर एक दफा जीते है, चल किसी नुक्कड़ पे हमारी दोस्ती के नाम पर एक कड़क चाय पीते है. 

 जनाब जरा तवज्जो देकर सोचिए आखिर किसतरह दुश्मन को दोस्त बनाया जाये, क्यों न उसे एक बार सुबह की कड़क चाय पिलाने घर बुलाया जाए.

 जो जिंदगी में आता है उसे welcome और जो जाता है उसे बाय बाय, हमें कोई गम नहीं यारों किसीके छोड़कर जाने का क्योंकि हम रोज़ पीते है अदरक वाली चाय.

रूबरू आऊं तो मुझसे आँखें चुराकर चलती है उसके हातों की बनी चाय की बात ही कुछ और है जनाब जो बिना शक्कर के भी मीठी लगती है.

👇download best chai video status in hindi👇

टेस्ट ये सुबह की चाय का इश्क़ से कई गुना लजीज है चाय के सामने तो मोहब्बत भी फीकी पड़ जाए चाय ऐसी चीज है हम जैसे चाय के दीवानों के पास हमेशा एक रामबाण इलाज होता है दर्द चाहे कैसा भी हो दवाई का नाम हमेशा चाय ही होता है

सुबह की पहली चाय जिंदगी के सारे गम मिटा देने का हुनर रखती है 

सुबह की चाय की तलब हमारी एक कप चाय पीने से आसानी से मिट जाती है लेकिन तुम्हारे लबों को चूमने की तलब हमारे चूमने से और भी ज्यादा बढ़ जाती है

chai shayari in hindi
chai shayari in hindi

दोस्तों के साथ दुश्मनों को भी अपना बनाया करो ये सुबह की चाय है इसे जरूर किसी अपने के साथ पिया करो.

ए उपरवाले मेरी बस इतनी सी मुराद पूरी हो जाये, इस कम्बखत ठंड में उस पगली के हातों की एक प्यारी चाय हो जाये,

इस दुनिया में सिर्फ एक ही चीज़ है जो चुटकियों में इंसान की थकान को दूर कर जाए और क्या कहूँ में चाय की खूबसूरती के बारे में ये ऐसी एकलौती चीज़ है जो हर गली के नुक्कड़ पे आसानी से मिल जाये.

तुम भी चाय की दीवानी हो में भी चाय का दीवाना हूं तुम भी किसी हमसफर की तलाश में हो, और में भी तुम जैसी हसीं की तलाश में हु........

खत्म होने दो ये लोकडौन फिर हम भी दोस्तों के साथ मिलेंगे चाय पर, और बनायेंगे यादें बहोत सारी जो कभी होंगी नहीं खत्म इन्हें मिटाने पर.

कुल्हड़ वाली चाय पर शायरी 

जिंदगी 🤗की मुसीबतों😖को😎अक्सर वही लोग✌️आसानी 💯से जीते हैं😎 जो🔥लोग रोज🌅 सुबह उठकर☕ चाय पीते हैं!!
chai shayari in hindi
chai shayari in hindi

हमारे दिल की ये बात भी जरा बारी की से सुनते जाओ जाते जाते अपने हातों से एक कप चाय पिलाती जाओ

इस कम्बखत शहर के अखबारों में तब हमारी मोहब्बत की खबर फैली जब मेरी सुबह की चाय की प्याली में तेरे उन मखमली होटों के निशान मिले

उसकी मोहब्बत गर्म चाय सी थी और हमारा दिल बेचारा एक बिस्किट सा था हम जितना ज्यादा उसकी मोहब्बत में डूबते गए उतना ही ज्यादा टूटते गए
chai shayari in hindi
chai shayari in hindi

अरे यार हमारी यह चाय की लत हमें एक दिन प्रधानमंत्री जरूर बनाएगी
इस दुनिया में दो चीज़ें सबसे प्यारी है एक गरमा गर्म चाय और दूसरा गरमा गर्म चाय पिलानेवाली

Morning chai shayari

जीवन में सबके ऐसी चाय हर किसीको नसीब हो हातों में गरम चाय का कप हो और सामने बैठा हुआ अपना मेहबूब हो

जीवन में अपने हर पल को खुशी से जी लेते हैं जनाब काम धंधा छोड़ो सबसे पहले हम चाय की एक चुस्की लेते हैं

दोस्तों आज सब गीले शिकवे छोड़ कर एक नई और प्यारी शुरुआत करें पिछली बुरी यादें छोड़ कर गरमा गरम चाय पर नई तरह से गपशप करें

Good morning chai shayari in hindi with beautiful images 


Chai par shayari in hindi
Chai par shayari in hindi

हम तो बस तुम्हे नुक्कड़ वाली कड़क चाय पिला सकते है जान ये चाँद सितारें तोड़ना तो सारी झूटी बातें हैं

इस दुनिया में कोई सिंगल है क्या हमने जज़्बातों में बहकर दो  चाय मंगाई है

 अगर आज तुम्हारी झूठी चाय का मीठापन अगर हल्का सा भी कम हुआ तो तुम्हारे नर्म होटों की खैर नही

जनाब उस जालिम की बातें तो इतनी ज्यादा मीठी है कि हमारी फीकी चाय भी हमें मीठी लगने लगती है 

 आज सुबह की चाय और बिस्किट ने भी हमें गज़ब का सबक दिया अगर किसी चीज़ में हद से ज्यादा डूबोगे तो आखिर में टूटना ही पड़ेगा

तेरे उन कोमल लबों को तो मैं हर सुबह सबसे पहले छुता काश तुम चाय का कप होती

सुबह की पहली चाय के साथ तेरी यादों के सहारा लेता हूं, करतां हु मोहब्बत तुझसे तो तेरे ही खूबसूरती के नगमे अक्सर गुनगुनाता हूं, जब कभी भी होटों पर लगाता हूं चाय की प्याली को इसमें बसी हुई तेरे इश्क़ की मिठास को भी पी जाता हूं.

हमारी शक्कर को कुछ इस कदर बचा लिया करो, जब भी हम चाय की प्याली होटों पर लगाये हमारे दिलो दिमाग में बस जाया करो.

पगली तेरी यादों का जायका भी बड़ा कमाल का है, रोज सुबह बिना शक्कर की चाय पिता हूं लेकिन मिठास तेरी मोहब्बत की चाय में बराबर उतर जाती है.

सारी दुनिया की मोहब्बत और मिठास लाया हूं, दोस्त पिलो इसे मैं तुम्हारे लिए एक अद्रकवाली चाय लाया हूं.

इश्क़ मोहब्बत की बातें तो चाय की प्याली के साथ ही अच्छी लगती है, कितनी भी बड़ी मुश्किलें हो जिंदगानी में लेकिन अद्रकवाली चाय पीने के बाद सभी बच्ची लगती है.

जनाब हमारी प्यारी चाय में और इस जिंदगी में बनाये हुए रिश्तों में, मिठास का एक सही सही माप होना चाहिए, क्योंकि अगर फीकी बन जाये तो कभी मजा नहीं आएगा और कभी ज्यादा मीठी बन जाये तो कुछ समय बाद ही हमारा मन भर जायेगा.

शाम की एक कप चाय दिन की सभी थकान को जड़ से मिटा देती है, कुछ तो है तुझमें पगली क्योंकि तेरी याद मुझे रोज़ सुबह शाम आती रहती है.

मोहब्बत और अद्रकवाली चाय में सिर्फ ओ सिर्फ एक ही चीज़ एक जैसी होती है, कि जिंदगी में कितना भी दुख दर्द हो ये आते ही होटों में मुस्कुराहट आ जाती है.

चाय की एक चुस्की लेते ही रूह में कुछ ऐसी ताज़गी आ जाती है, आसमां से बारिश तो नहीं होती लेकिन जिंदगी हरि भरी हो जाती है.

जिंदगी के हर मोड़ पर खुदको किसी तरह सम्हाल रखा है, ये दुनिया बडीही मतलबी और जालिम है जनाब, ये चाय ही है जिसने इतनी मुश्कीलों के बाद भी हमें जिंदा बनाये रखा है.
  

तेरी प्यारी तस्वीरों से मोहब्बत का हमने एक अनोखा  वहम पाल रखा है तेरी कोमल होटों से चाय की ली गयी चुस्की का कप हमने आज भी बड़े संभाल कर रखा है

Chai par shayari
Chai par shayari

New shayari on chai

सुबह सुबह की चाय चीनी अगर न हो तो उसे पीनी में कैसा मजा और अगर जिंदगी में BF/GF न हो तो  जिंदगी जीने में क्या मजा

तुम अगर हमसे सुबह की मीठी चाय की तरह तो इश्क़ करो  हम तुम्हारे मीठे पानी में जरूर एक बार डूबना चाहेंगे 

सुबह की चाय में कितने चम्मच शक्कर लोगे ऐसी व्यवस्था तो सिर्फ सिनेमाघरों में होती है हमारे नुक्कड़ पर जैसी बन जाये हमें उसी को पीना पड़ता है

मेरी जिंदगानी भी किसी सरदर्द से कम नही और तेरी मोहब्बत कड़क अद्रकवाली चाय से कम नहीं

ये जो चाय है वो मेरे लिए सिर्फ एक मामूली चाय नही है वो तो मेरे लिए तो एक दवा है मेरे सभी दुखों और गमों की गवाह है

नशा तेरी मोहब्बत का हो या सुबह की चाय का में तो दोनों का ही आदि हूं

 हमें चाय पर बुलाया करो तब कहीं घर जैसा माहौल बने यूँ तेरा हमें कॉफ़ी पर बुलाना हमें बडाही अटपटा सा लगा

मैंने तो तुझसे बेइंतहा चाय सी मोहब्बत की है तुझसे अगर कुछ देर बात ना हो तो सिर दर्द किया करता था

किसी इंसान से मोहब्बत की झूठी बातें करके उसका दिल जलाने से लाख गुना अच्छा है कि सुबह की कड़क चाय पीकर अपना कलेजा जला लिया जाये

 हमारी सुबह का आगाज फ़ेसबुक और व्हाटसऐप पर स्टेटस रखने से नही होता हमारी सुबह का आगाज तो कड़क चाय पीने से होता है

 funny chai quotes in hindi

जिंदगी में कभीभी हल्के में मत लेना इस सांवले रंग को दुनिया आज भी दूध से ज्यादा चाय की शौकीन हैं

कभी वक्त निकाल कर मिलो हमें शाम की चाय पर नए सिरे से किस्से बुंनेंगे हम लोग तुम हमसे धीरे से कहना और हम भी तुम्हे बड़े ध्यान से सुनेंगे

बस तेरी यादें ही तो है हमारे पास वरना कौन कम्बखत शाम की चाय अकेले बैठकर पीना पसंद करता है

 अपनी चीनी को बस इस तरह से बचा लिया करो जभी भी चाय की चुस्कियां लो तुम हमें अपने खयालों में ले आया करो
हमें तो बहोत प्यारा लगता है शाम को उस ढलते सूरज के साथ में चाय की चुस्की लेना तेरी उन सुहानी यादों को दिल में  बसाकर हर पल जीना

Chai shayari in hindi for chai lovers 


Chai par shayari
Chai par shayari


 chai pe shayari

आज वापस से चाय पीने की कुर्सीपर कीसी की ख्वाइश अधूरी रह गयी चाय के कप ने तो होटों को छू लिया पर केटली बेचारी रोज की तरह सिर्फ देखती रह गई

  मोहब्बत की वो सुबह और शाम की चाय में सिर्फ एक ही समानता हुआ करती है हमें हर दफा वही नयापन और वही ताजगी का एहसास करवाती है 

कुछ कुर्बानियां हमारी कुछ ख्वाइशें तुम्हारी मुसाफिर सा हर जगह भटकता हुआ मन सुबह का एक कप चाय का और तलब तुम्हारी

Chai shayari in hindi
Chai shayari in hindi

मैंने तो सुना है कि अगर हम किसीको सर्दियों में मुफ्त में चाय पिलाते है तो चाय पिलाने वाले को  बहोत ज्यादा पुण्य प्राप्त होता है   तो आज कौन पुण्य प्राप्त करना चाहेगा 

सर्दियों में तो बस दो चीजें लाजवाब कहलाती है एक तुम्हारी यादें और दूसरा गरमा गरम चाय

Read also : bk shivani quotes 

बहोत ही ज्यादा ठंड है दोस्त प्लीज अपना ज्ञान मत बाटों अगर बाँटनेका इतनाही शौक है तो एक एक कप चाय बांटो

हमने तो चाहा था सुबह की चाय की तरह तुम्हे और तुमने मुझे एक बिस्किट की तरह अपनी मोहब्बत में डुबो दिया

 तुम्हारी इन प्यारी आखों से यूँ गुस्सा न छलकाओ मौसम बहोत सुहाना है हो सके तो गरम चाय और पकोड़े बनाओ

Chai shayari in hindi
Chai shayari in hindi

मेरी सुबह की चाय आज वापस कुछ ज्यादा मीठी हो गयी मैने कितनी बार कहा हैं तुम्हे की यादों में मेरी तुम यूँ सुबह सुबह न आया करो

 chai par shayari

चाय के से निकलती बांफ में हमें तुम्हारी सूरत नजर आया करती है तुम्हारे ख्यालों में खोकर रोज की चाय मेरी ठंडी ही रह जाती है

न जाने मेरे जीवन में वो पल कब आयेगा जब मेरे थक जाने पर मेरा हमसफर गरमा गर्म चाय बनाएगा और मुझे पिलाकर  वापस रीचार्ज करेगा
Chai shayari in hindi
Chai shayari in hindi
तुम्हारी शाम की एक इस मौसम पर उधार है जिंदगी में आपके कभी थोड़ा वक्त मीले तो एक प्यारी सी मुसकान के साथ उधार चाय पिला जाना

 ये चाय के दीवानों का इलाका है जनाब यहां पर व्हाटसअप स्टेटस से नही सुबह की चाय की चुस्की से सवेरा होता है

में तो चाय में ढूढता रहा अदरक और इलायची की खुशबू पर असली चाय की सुगंध तेरा नाम लेने से ही आयी

Friends, tea is produced in the highest quantity in our country and we Indians like to drink this chai the most. This chai shayari in hindi post will make you aware of some good and unheard chai shayari in hindi which you may not have heard before. We have brought this chai shayari in hindi post especially for those chai lovers who like to drink tea a lot. 

In this post, we have brought you not only chai shayari in hindi but also new types of shayari like funny chai quotes in hindi, chai par shayari, shayari on chai, etc. Some people call this post chai par shayari blog post, some people say shayari on chai, people definitely call by different name, there is a commonality among these people that they are all chai lovers.

 ठान तो हमने भी लिया था कि आगे से कभी नही पियेंगे हम सुबह की चाय उनके हातों से पर जैसे ही हमने उन्हें देखा होंठ अपने आप हमसे बगावत करने लगे

 Chai shayari in hindi for you 

ये ठण्ड का बेईमान मौसम और तुम्हारी वो प्यारी याद बचे यो जिंदगी में जरूर कही न कही मिलेंगे एक कप चाय के साथ

शाम ओ सुबह बस चाय की तरह बन चुके हो तुम हर पल बस तुम्हारे दीदार करने की ही तलब लगी हुई रहती है

इस✌️ कम्बखत मोहब्बत ❤️और सुबह की पहली ☕चाय का भी 🤗गजब का रिश्ता है चाय 💯को बनाना पड़ता है😇 और मेरे महबूब ❤️को रोज मनाना पड़ता ✌️है

Chai par shayari
Chai par shayari

जिंदगी में तो बस दो ही सबसे बडी चीज़ें हैं मेरे लिए एक सुबह की पहली चाय और दूसरा तुम

पहली बार अपने बॉयफ्रेंड के लिए अपने हातों से चाय बना रहीं हूं कितनी चम्मच ज़हर डालू

उन्होंने हमसे कहा कितनी चम्मच चीनी लोगे हमने मुस्कुराते हुए कहा आप बस एक चुस्की लीजिये और बाकी हमें दिजिये

  तुमपर मेरा हक़ है और हमेशा मेरा ही रहेगा इश्क़ कोई चाय नही है जो सबके नाम एक एक कप कर दी जाए 

गुलाबी ठंड में मसालेदार गरम चाय पीने का मजा कम्बखत शराबी क्या जाने हमारी गरमा गर्म चाय का नशा 

 इस कड़ाके की ठंड में मिलने वाली गर्म चाय जैसी है तुम्हारी यादें कम्बखत हमें जितनी बार मीले उतना ही कम लगने लगती है

Chai par shayari hindi main

कमसे कम आज तो अपनी छत पर चाय के बहाने हमसे मिलने आओ इतनी शाम भला कौन देखेगा

मेरे तो हर चुस्की में तेरी लाखों यादें बसी हुई है अब आप ही बताओ कैसे कहूँ की चाय बुरी है

सुबह की चाय गरम तुम्हारे ये कोमल होंठ नरम और एक प्यारा सा चुम्मा देने में कैसी शरम

तूने सिर्फ मुझे ही नही इन गरम चाय की प्यालिओंको भी लगा रखी है आदत तेरी

आज सुबह सुबह उठकर ही मैने तेरी यादों को अपने जहन से निकाल दिया है तेरी आँखों में बसीं हुई मोहब्बत के बिस्किट को सुबह की चाय में डुबो कर गला दिया है

Shayari on chai
Shayari on chai

अपनी जुबान को जरा ठंडा रखा करो जनाब गर्म तो हमें सिर्फ चाय ही भाती है  

मुझे तुम्हारी मोहब्बत में इतना खो जाना है जितना काली चाय सफेद दूध में खो जाती है

हमारी और चाय के रिश्ते के बारे में तुम क्या जानो हमें तो हर चुस्की में अलग ही नशा हो जाता है 

शाम की एक कड़क। चाय तुम्हारी भी सुबह की एक गरम चाय हमारी भी कुछ राज़ दिलके तुम्हारे भी कुछ दासताएँ दिलकी हमारी भी

 हम तुंझे गर्म चाय समझकर चाय समज कर गलेसे नीचे न उतारले कहीं यूँ मुझे अपनी गर्म साँसों से न जगाया करो

जब से उसको अपने दिल से निकाला है दिल में हमारे अजब सी खलबली मची हुई है बस एक राय चाहिए आपसे सुबह की रोशनी में गर्म चाय पीयू या ठंडी बियर

जिन लोगों को मसालेदार चाय से लगाव होता है उनके जुड़े हुए दिल में दरार जरूर होती है

 Funny chai quotes in hindi 

मोहब्बत हो या सुबह की कड़क चाय दोनों चीज़ें गर्म हो तब ही अच्छी लगती है

 हमारा इश्क़ तो चाय सा है जनाब तुम्हे क्या पता जब भी होटों से लगाते हैं चाय के कप को हर चुस्की में बस तुम्हे ही याद किया करते हैं

थोड़ा नशा तुम्हारी उस मासूमियत से भरी आखों का तो उस से ज्यादा सुबह की चाय का भी है इस दुनिया को अपनी काबिलियत दिखाने का मन तो हमारा भी है
हम 😎तो न कभी ❌चाय लिया करते☕ हैं नाही❌और नाही कभी😎 हम कॉफी☕ लेना पसंद💯 करते हैं 🤗हम तो बस 😍तेरी एक अदा के 😄दीवाने बने बैठे हैं✌️ सुबह 🌅जब भी उठते💯 है बस एक 😇तेरा नाम लेते हैं

Shayari on chai
Shayari on chai

सुबह की चाय हो या शाम की तेरा चेहरा हर किसी में हमें नजर आता है कभी कभी इतना खो जातें है तेरे ख्यालों में हम की अक्सर हमारा चाय का कप ठंडा हो जाता है

 chai par shayari 

जरा इन आँखों में तो झांक कर देखो की इसे आज किसकी जरूरत है और जरा ये भी सुनो हमें आज चाय की नही बल्कि तुम्हारी तलब ह

 

adrak wali chai shayari/अद्रक वालीचाय शायरी 

जब भी तेरी याद आती है, हंसता मुस्कुराता हूं और तेरी याद को यादगार बनाने में चाय का कप उठाता हूं.

जनाब शराब मत पिया करो शराब से अक्सर चढ़ती है, पीना ही है तो चाय पिया करो क्योंकि इससे भाईचारा और अपनों के बीच मोहब्बत बढ़ती है. 

Is chai shayari ki blog post mai hmne chai shayari in hindi ko Joda hai.
Best chai shayari In hindi with hd images


तेरा हुस्न-ए-दीदार करने में तेरे पास आया हूं, कॉफी से नफरत है मुझे में अपनी चाय साथ लाया हूं.

चाय अक्सर सरकारें बना देती, ये लोगो के दिन बना देती है, हो अगर कोई अच्छी चाय बनाने वाली तो उससे अक्सर मेरी मोहब्बत करवा देती है. TEA LOVER

खुशियां बाटों तो खुशियां बढ़ती है, और अगर रोज़ सुबह चाय पियो तो दिल में मोहब्बत सभी तरह की धुनें बजती है.

उस से ही प्यार है उससे ही गहरी यारी है, सुबह की पहली चाय से कुछ इसकदर आशिकी हमारी है.

मेरे दिल में आता वो ख्याल भी क्या ख्याल है, जिस में तेरा एहसास न हो सुबह की पहली चाय ही कैसी जिसमें तेरे इश्क़ की मिठास न हो

उन खूबसूरत पलों को मजे से जीना है हमें उसके हातों से बनी हुई चाय को पीना है.

good morning chai shayari/गुड मॉर्निंग चाय शायरी

ठंडी पड़ी चाय और समझौतों पर निभाने वाले रिश्तों में कभी पहले जैसी मिठास नही होती.

मेरी सारी गलतियों की मिलकर सज़ा दो कभी साथ में बिठाकर चाय पिला दो.

चाय चाय नहीं लगती जब तक इसमें आपके इश्क़ की मिठास नहीं डलती

जनाब आज मुझे पहली बार दुश्मन ने कड़क चाय पिलाई है, मैंने भी उसकी और दोस्ती का हाथ बढ़ाकर दुश्मनी दफनाई है.

मेरी ख्वाबों में आ जाती मेरे खयालों में घूमती है ये चाय है जनाब हर समय मेरे दिल में बसी रहती है

ये कम्बखत हवाओं के झोंके और कड़ाके की ठंड के दिन ज़ेहन में बसी तुम्हारी यादें और एक और कप चाय तुम्हारी मौजूदगी के बिन.

मेरे चेहरे पर तुझे देखकर ऐसी मुस्कुराहट नहीं आती जैसी कड़क अद्रकवाली चाय को देखकर आती है.

चाय के शौकीन शायरी/chai ke shaukin shayari

काश मेरी जिंदगी में तू चाय सा होता जो जिंदगी के हर पल मेरे पास होता.

इस जिंदगी में कभी मोहब्बत मत करना ये राय मानले मेरी इससे अच्छा है तू कड़क अद्रकवाली चाय पीले ये मिटा देगी सारी मुश्किलें तेरी

आज मैं जिंदगी के उन हसीन पलों को जी आया बचपन के दोस्तों के साथ अद्रकवाली चाय पी आया.

चेहरे पर जिसकी लाली हो, जिंदगी में बस एक हसीं चाय पिलाने वाली हो.

तुम जो इतनी जुबान चला रही हो काश की इतने  अच्छे तरीके से चाय को भी बना पाती.

जब वो हमें देखकर मुस्कुराती थी हमारी रूह में जान आ जाती थी और जब वो अपने हातों की चाय बनाती थी उसपर हमारी मोहब्बत दोगुना हो जाती थी.

Is chai ki shayari image mai hmne chai par shayari ko likha hai.
Chai par shayari

आज फिर साथ बैठकर चाय का मजा लेते है, हमारी मोहब्बत को एक नई बुलंदी पर ले जाते है

चाय सबकी की प्यास और दिलों की चाह होती है, सुबह की पहली पुकार और रात का ख्वाब होती है, सच में यार चाय बड़ी प्यारी चीज़ होती है.

जनाब हमारी प्यारी चाय दूसरी ऐसी चीज़ है, जो हमारे आखों को खोलती है, मोहब्बत तो पहले नम्बर पर है.

जनाब जब भी इंसान और चाय गिरती है किरदार पर तो दाग लग ही जाता है.

कोई मुझे उससे रूबरू करादों, अगर ढूंढने पर भी न मिले उसकी कोई निशानी तो उसके नाम की एक मसालेदार चाय ही पिला दो.

हमारे सामने बड़े बड़े सुरमा भी बच्चे लगते है, और मुझे डराने की कोशिश मत करो जमाने वालों क्योंकि हम वो नवाब है, जिसे लोगों के लहजे नहीं बल्कि चाय और पकोड़े ही गर्म अच्छे लगते है.

गुजरती हवाओं में उसका अक्स दिखाई देता है जब भी होटों पे लगाता हूं चाय की प्याली को गमों की धूप में भी अक्सर अच्छा लगता है.

उसकी मोहब्बत के बारिश में भीगना अच्छा लगता है, आशियाना छोटा है उसके दिलका लेकिन उसी आशियाने में रहना अच्छा लगता है, और जब मिलती है उसके इश्क की मिठास सुबह की चाय में तो झूठा जमाना भी सच्चा लगता है.

अदरक, इलायची दालचीनी वाली चाय को तो सभी लोग पीते है, असल में तो खुशनसीब होते है जो अपने मेहबूब की झूठी चाय पीते है.

कड़ाके की ठंड हो और किसी अपने की खुशनुमा यादें बसी हो हमारे सीने में, तब कहीं जाके मजा आता है सुबह की मसालेदार चाय पीने में.

तेरे यादों को अपने सीने में भरकर नहीं चलता बल्कि में तो तेरी यादों की दुनिया में जीता हूं, लोग कहते है हमेशा अकेले बैठ कर चाय पिता है, लेकिन उन्हें कौन बताएं कि मैं तो तुम्हारी मिठास को चाय में उतारकर पिता हूं.

जब कभी वो पगली अपने हातों से हमारे लिए सुबह की पहली चाय बनाती थी हमारे रूह तक को सुख शांति मिल जाती थी, थे तो बहोत से दर्द ओ गम जिंदगी में लेकिन उसकी मौजूदगी हमारे सारी उदासी को मुस्कुराहट में तब्दील कर दिया करती थीं.

हमें तो उस शख्स से सच्चा प्यार हो, जिसके हातों में चाय हो. 

कुल्हड़ वाली चाय शायरी/kulhad wali chai शायरी

जनाब ये कम्बखत इश्क़ काफी हद तक चाय जैसा होता है, इसे फूंक फूंक कर पिया वरना जल जाओगे.

Ise bhi padhe : Ahmad faraz shayari  

इस जिंदगी में हमें सिर्फ तू और तेरे हाथ की चाय भाती है, वरना ये कम्बखत जिंदगी अक्सर भागदौग में गुजर जाती है.

इस कम्बखत जिंदगी को भी हम बड़ी खुशी और उमंग से जीते है, असल खुशियोंके पल तो तब आते है जब हम उस पगली के हातों की चाय पीते है.

गमों का मौसम हो, और उस बेवफा की यादें हो हमारे सीने में, जिंदगी को काटने का तभी असल मजा आता है, जनाब जब एक हाथ में हो सिगरेट और दूसरे हाथ रखी में चाय पीने में.

जो कम्बखत सुबह उठते ही चाय नहीं पीते खुदा जाने वो आखिर कैसे जीते है

यहां हर कोई है ओहो तो कोई है हाय फाय छोड़ों इन कमबख्तों की बातों को क्यों न प्यारी सी चाय की चुस्की ली जाये

अपने गुरुर को जरा ठंडा कर पगले मुझे तो गर्म बस चाय ही पसंद है.

रात किसी को दिखती जवां तो किसीको नशीली है, लेकिन   कड़क चाय से बढ़कर कोई चीज़ नशीली नहीं

हम आज कह ही देते हैं कि बाहर का मौसम बहोत ही ज्यादा सुहाना है तुम्हे हमारी रूह जो आज मिलाना है

 तुम्हे चाय पर बुलाना तो बस हमारा एक बहाना था असली मकसद तो बस तुम्हारी इन प्यारी आँखों से जो हमें खो जाना था

जरा सुनो हमें तो आज बस चाय को पीने का मन है क्या तुम्हारे घर में दो चाय पीने के कप है

आज तो मन हमारा भी कर रहा है कि उन्हें अपने घर चाय पर जल्द से जल्द बुलाऊँ और चाय की चुस्की लेते लेते तुम्हारी इन नशीली आखों में खो जाऊं     

इस सुहाने मौसम में किस किस का दिल कर रहा है चाय को अपने लबों से लगाने का अगर आपका कर रहा है तो किचन में जाकर बना लो और सुनो आता वक्त मेरे लिए भी एक प्याली बना लेना

 हमें तो ऐसी हमसफर चाहिए जो सुबह की गर्म चाय के साथ साथ हमें अपनी नशीली आखों में हर पल डुबाये रखें

जनाब लगता है आपने चाय में चीनी नहीं डाली चलो कोई बात नही एक चाय की चुस्की लेकर इसे वापस मीठा कर दीजिए

 ट्रैन में मुसाफिरी करते समय प्लेटफार्म पर मिलने वाली चाय की लोग चाहे कितनी भी बुराई क्यों न करे पर अपनी तलब मिटाने के लिए उसे पीते जरूर है

सुन पगली तेरी खूबसूरती के दीवाने तो होंगे कई लोग पर हम तो बस सुबह की पहली चाय के दीवाने है

 Chai par shayari tumhare liye  

 हमने तो कभी नहीं देखा कोई भी मौसम हमने तो बस तुम्हे चाहा है तुम्हे सुबह की चाय की तरह

जरा हमें भी बताओ अपने दिल का हाल जब तुम सुबह की पहली चाय हमारे बिना पिया करते हो

 ऐसे कैसे तुम्हे चाय पर आने पैगाम भेजू तुम कभी हमसे मिलने का इशारा तो करो

सुबह की चाय हमारे दिल के सारे जख्मों पर मरहम लगाने का काम किया करती है

अक्सर बढ़ जाता करता TASTE हमारी सुबह के चाय की प्याली का जब इरादा बईमान हो चाय पिलाने वाली का 

हमारी जिंदगी भलेही उबलती रहे चाय की तरह हर पल पर हम भी जिंदगी का हर घूंट बड़ेही शौक से लेंगे

 सुना बिता हुआ दिन और अकेली बित रही शाम हातों में एक कप गरम चाय का और होटों पर बस तुम्हारा नाम  

हमने भी कहीं पर पढ़ा था कि अपनों को झूठा पीने से रिश्तों का प्यार और ज्यादा बढ़ जाता है यही वजह से आज हम आपकी चाय की प्याली से एक चुस्की लेना चाहते हैं

  इस जिंदगी को हमें बड़ेही शान और रुतबे से जीनी है और हमें तुम्हारी चाय की प्याली से बस चुस्की झूठी चाय पीनी है  

हम तो उम्र भर खुदको जलाते रहे ख़ूदको धीमी आंच पर टैब कहीं जाकर हमारी इश्क़ की चाय कहीं मशहूर हुई

 हमारे लिए चाय ऐसी बला है जिससे सुबह सुबह हमारी आँखें खुलती है अडोसन अभभी पहले नंबर पर है जनाब

आज तो मैं एक ही पल में अपनी पूरी जिंदगी आया हूँ क्योंकि अभी अभी अपनी जान के हातों सुबह की चाय पीकर आया हूँ

अरे सुनो जान ऐ मन आज मौसम बड़ा बईमान है क्योंकि हमारे सामने तुम्हारे रूप में एक सोने की खान जो है    

हमारा और शाम की उस कड़क चाय का रिश्ता कभी नही बदलेगा यह समय तो जरूर बदलेगा पर हमारे दिल का हाल कभी नही बदलेगा

 शाम की वह सुहानी चाय अब बड़ी बुरी और काली जो हो गयी जब से तुम्हारे और हमारे बीच ये फासलों की दीवार जो खड़ी हो गई

हम तो हमारी शादी उसी पगली से करेंगे जो सुबह उठते ही कहेगी बेबी पहले चाय बादमे प्यार

 अब सोते समय हमें अक्सर तेरे साथ पिये चाय के लम्हों के ख्वाब आते है क्योंकि दिनभर तुम्हारे खयालों में हम खो जो जातें है

हमें तो बहोत पसंद है चाय नुक्कड़ की आवाज और सुर मोहम्मद रफी साहब की शायरियां गुलजार की और मोहब्बत मेरे महबूब की

जरा सुनो तुम्हरे प्यार से अब काम नही चलेगा तुम्हे मेरे लिए एक कप चाय भी बनानी होगी 

सर्दी की गर्म चाय सी मोहब्बत है तुम्हारी हमें जितनी मिले अक्सर कम ही लगती है

हमारा डॉक्टर हमारे लिए ठीक से दवाई भी नही दे पाया और  कम्बख्त  नुक्कफ का चाय वाला हमारी दर्द का नामो निशान मिटा गया 

तुम्हारे इश्क़ की गर्म जज़्बातों की बहोत ज्यादा जरूरत है हमें देखो तो सही यह मौसम कितना बईमान हो चला है

 हम तो निकले थे इश्क़ के राह पर रास्ते में चाय पीने का मन किया और उसी चाय की दुकान अपना जीवन गुजार लिया

हाथ में चाय हो यादो में आप हो, फिर उस खुशनुमा सुबह की क्या बात हो

किसको बोलो हेल्लो किसको  बोलू हाय हर टेंशन हा एक ही हल अदरख वाली चाय 

मजबूर रिश्ते और कड़क चाय धीरे धीरे बनाते हैं
 

Friends, if you like this blog post in our chai shayari in hindi So do tell us through your comments and if you want to send our chai par shayari hindi main blog post to whatsapp,

then you can send shayari for chai post by clicking the whatsapp button

Post a Comment

2 Comments

  1. https://shayarim.in/wp-content/uploads/2021/01/Maa-ke-liye-shayari.jpg
    https://shayarim.in/maa-ke-liye-shayari/

    ReplyDelete
    Replies
    1. Spam mat karo bhai back link chahiye to mang lo

      Delete

Please do not enter any spam links and comments