[99+] Best Javed Akhtar Shayari (collection) in Hindi (2021)

Javed akhtar ka parichay|कौन है जावेद अख्तर.

नमस्ते दोस्तों आज हम आपके लिए लेकर आ चुके javed akhtar की shayariदोस्तों आप इस पोस्ट को जावेद अख्तर poetry भी कह सकते हो जनाब जावेद अख्तर एक बड़ेही बड़ेही प्यारे और उम्दा किसम के शायर है, इंडिया में ऐसा एक शायरी का दीवाना नही होगा जो जावेद साहब को नहीं जानता हो.

दोस्तों जावेद अख्तर की शायरीयां और गज़लें बडीही प्यारी होती है, इनकी शायरियों और गज़लों खासियत ये है की इनके अल्फ़ाज़ अक्सर सुनने वालों को दीवाने कर जाते है, दोस्तों इनका जन्म 1945 को ग्वालियर शहर में हुआ था इनमें शायरी करने की जो काबिलियत है ये इनके पिता निसार अख्तर जी की वजह से आई है क्योंकि इनके जो पिता थे वो भी एक उम्दा शायर, बॉलीवुड में गित लेखक भी थे जब जावेद अख्तर अपने बचपन को जी रहे थे तभी उनके पिता ने उनको शायरी और गज़लों से उनका राब्ता करवाया फिर जैसे जैसे जावेद अख्तर बड़े होते गए उनका और शायरियोंका रिश्ता और भी गहरा होता गया.

जब ये स्कूल की पढ़ाई कर रहे थे तब उन्होंने अपनी पहली ग़ज़ल लिखी थी जो कि उन्होंने सिर्फ अपने और अपने पिता तक ही सीमित रखी. फिर जावेद अख्तर का शायरियां लिखने का सिलसिला यूँही जारी रहा. फिर 1960 में जावेद अख्तर की कई शायरियां आयी जो कि वो सिर्फ उनके पिता तक सीमित थी. 

अपनी स्कूल की पढ़ाई खत्म कर उन्होंने अपना graduation सैफिया कॉलेज भोपाल से किया जो कि मध्यप्रदेश में स्थित है. जब वो अपनी स्कूली पढ़ाई और अपना graduation कर रहे थे तब वो पाकिस्तानी लेखक ibne saifi से काफी प्राभावित थे उनकी जासूसी उपन्यास (novel) पढ़ने का शौक रखते थे, 

उनके मीडिया को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि "जब भी में निराश होता हूं तो iben saifi के उपन्यास पढ़ता हूं जिससे मुझे प्रेरणा मिलती है और में भी लिख पाता हूं."

javed akhtar ki mohbbat par shayari

तेरी👩‍⚕️ आँखों 👀को हमने 😎ज़माना मान 😄लिया है तेरी👩‍⚕️ यादों को❤️ दिल में बसा🤗 लिया है 💯इस कम्बखत😎 दुनिया में 🌍हमें कोई ❌नहीं भाता🙌 इसलिए 😄तेरी रूह🤗 से राब्ता कर 😍लिया है.

हमारी😇 खुशियो 😄में जनाब 😉आप भी🤠 आईये और अपने 😤गमों में 💯हमको भी 😎बुलाते रहिये, 😉जनाब ये दोस्ती🙌 कोई जुर्म ❌नही, जिंदगी 😑के हर मोड़🤠 पर दोस्त💯 बनाते रहिये😍, 

Is javed akhtar ki image mai hmne javed akhtar ki sabse anokhi shayari ko joda hai.
Javed akhtar ki sabse anokhi shayari

हमें👩‍⚕️ तुझसा हमसफर😎 जिंदगी मैं😉 मिला तो🤗 हम जिंदगानी🙌 जीना भूल 😉गए और जिस😇 दिन हुए🤗 रुहबरु 👩‍⚕️तेरी आँखों👀 की रोशनी से 😎हम गमों की😤 अंधेरी रातों 🙌में भटकना 😑भूल गए.

इतने🤠 साल साथ😇 रहकर उसने👩‍⚕️ हमारी तस्वीर 🤗को 😉अपने जेहन 💯में उतारा तो 😇होगा, 😉कल जिस😄 कद्र टकराया🤠 था में 😉उससे उसने 😄पहचाना तो😇 होगा🤗,

मेरी 🤠आखों👀 देखना तो😎 छोड़ दिया🙌 ख्वाब😇 तुम्हारा 💯मगर दिल❤️ में लगी😄 आग 🔥आज भी😎 सुलग🤗 रही 💯है.

जनाब😎 उसको 🙌बहोत याद😇 करतें 😎 है हम,😉 मगर 😑उसको 🤗कीसी 😤और की 💯बाहों खुश 😑रहता 🤗देख 🤠अपने 😎अल्फाजों 🤗को 😄अक्सर सीने 🤗में दबा 🙌देते 🙌है हम💯.

फिर 🤗फूलों से 😇खिल जायें, अगर👩‍⚕️ तुम अपने हुस्न 😍के दीदार करा🤠 जाओ, हमारी💯 ये जिंदगी भी🙌 खुशियों😎 से भर जाये👩‍⚕️ अगर तुम हमारी🤠 बन जाओ.

हमें 😇एकेलपन की 🤗धूप ही मिली🙌 है जिंदगी मैं😎 और कुछ❌ नहीं मिला,🤠 जिंदगी में ❤️मोहब्बत की😎 बारिश हो 💯जाये अगर 👩‍⚕️तुम हमारी बन🤗 जाओ.

 सिर्फ 😎यादों में ही🤗 रहतो हमदम😇 मेरे ये कम्बखत🤠 जमाना जल💯 कर राख हो🙌 जाये अगर 👩‍⚕️तुम हमसे😍 राब्ता🙌 करने आ 😎जाओ

इन्हें भी पढ़ें : अहमद फ़राज़ की शायरी 

नहीं ❌मिलते हो😎 मुझसे👩‍⚕️ तुम तो 🤠सब हमदर्द हैं 🤗मेरे ज़माना 😇मुझसे जल 🔥जाए, अगर👩‍⚕️ तुम मिलने😉 आ 💯जाओ

हर🤗 गली में 😎उसके 💯आशिक है🙌 अब हम 😤उसे अपनी 😍मोहब्बत का 😇इजहार करें तो😉 करें 🤔कैसे🤔.

Javed akhtar ki shayari ki video dekhiye  

तुझे👩‍⚕️ किसी😇 और🤗 कि बाहों💯 में देखकर 😄तेरे सामने😎 में भलेही 😄हंसता मुस्कुराता😎 रहा🤠 लेकिन😤 सिर्फ मेरे 😑खुदा को पता 💯है 😉कि मैं 🤠अंदर से कितना 🤗रोता रहा😎.

आज🤗 फिरसे 🤠टकराई 🙌है, मुझसे 😇उसकी 👩‍⚕️परछाई 😉जिसने 😎मेरी 👀आँखों 💯से फिर😇 एक दफा 🙌बरसात है 😎करवाई

जनाब😇 गैरों 😎को कहां🙌 मिलते 😑है मौके 🤗हमें रुलाने 🤠के यहां💯 तो हमारे 😉अपने ही 😎हमें कभी😄 हंसता नही देखना❌ चाहते.

बुरा 😎वक्त आये🙌 तो कुछ🤗 देर रोना 😇और अपने😑 आप 🤠ही खड़े 😤हो जाना 💯ये बडाही 😎ही जालिम🙌 ज़माना है, 🤠इससे किसी 😉चीज़ की😇 उम्मीद मत❌ लगाना.

सिर्फ😉 मुह में 🤗है जुबां😑 तो ये ❌नहीं है 😇काफी, सलीका 😤भी होना 😇चाहिए 🙌गुफ्तगू करने के😎 लिए.

Javed akhtar ki pehli gazal

जिस 😎मंजिल को 😉हरकोई चुनता😇 हैं हमें उसे🤗 पाना 🙌अच्छा नहीं ❌लगता, मुझे 😏आसान रास्तों😄 पर चलना💯 अच्छा नहीं❌ लगता,

Is javed akhtar ki image mai hmne javed akhtar ki sabse anokhi shayari ko joda hai.
Javed akhtar ki sabse anokhi shayari

ज़ालिमों😇 के साथ🙌 रहकर लोगों🤠 पर जागती😎 करना 💯सुनने मैं 😇अच्छा तो है🙌 लेकिन ये 🤗कभी हमारे किरदार 😎पर अच्छा नहीं❌ लगता.

मुझे 😇तो हर 👩‍⚕️औरत से🙌 कामयाबी😎 की उम्मीद🤠 है, दामन 💯किसी भी 👩‍⚕️औरत का😇 हो उसपर 😤दाग कभी अच्छा ❌नहीं लगता. 

बुलंदियों😉 पे पहुंचकर😎 अक्सर 🤠इंसानों में 😇आता है. गुरुर 💯इतना 😉कि उन्हें 🙌कोई अपना🙌 अच्छा नहीं❌ लगता.

सुबह😇 शाम भगवानों 😎की तस्वीर 💯को पूज 🤠रहें है, अपने ही 😏माता-पिता 😎को घर से😑 निकालते 🙌हैं ये मंजर अच्छा ❌ नहीं लगता.

 इसे भी पढ़ें : वसीम बरेलवी की शायरी

उसकी👩‍⚕️ खुशी 🤗के लिए में😇 सालों तक 💯जलता था,😑 और एक 🤠वो था कि🙌 मेरे जले🔥 पे खुश 😎होता था.

तुझसे 👩‍⚕️बिछड़ा हूं😤 तो क्या 💯हुआ तुझसे🙌 जिंदगी🤗 में एक बार😎 राब्ता करना😉 बाकी है, 🤠भलेही इस कम्बखत🌍 ज़माने ने 🤗तोड़ दिए😉 रिश्ते हम 😎दोनों के लेकिन🙌 उनका 😇हमारी रूहों 💯का रिश्ता🤠 तोड़ना❌ बाकी है. 

जनाब 😎इन कम्बखत🙌 बुझे चिरागों 🤠में तेल ही 😉कम था 💯आखिर क्यों🤗 शिकायत 😉मासूम हवा😇 की करें, तेरी 😉बेवफ़ाई का 😤गम ही 🙌बहोत था 😄ज़माने में क्यों 😑बदनाम इस 🤗बेचारी रात 😎को करें.

जनाब😤 इस कम्बखत 🌍दुनिया के🙌 खेल बड़े 💯निराले है,😑 गद्दारों को 😉मिलती है😇 सलामी 😉और सच्चाई😇 की राहों🤗 पर चलने🤠 वालों के 😄हिस्से में जख्म😑 रुलाने वाले 💯है.

इस😎 जिंदगी🤗 की भी🤠 बड़ी 💯अजीब😉 दास्तान😄 है, किसी🙌 अपने 😎को खोकर 😇ही आगे 🤗जाने का 😉रास्ता🤠 है.

Javed akhtar ki gazal hindi mai

तुम्हारी👩‍⚕️ मुस्कुराहट 😄को देखा 🤠तो दिल में❤️ एक छोटा सा🤗 ख्याल आया😉, कड़ी धूप💯 में बरसात😎 बन बादलों 😇का प्यार 😍आया,

तुम्हें👩‍⚕️ छूने की😎 आज फिर🙌 से आरजू 🤠थी हमारी🤗 लेकिन हमने 😇फिर एक💯 दफा अपनी 😎आरजू को दिल❤️ में दबाया, 

तुमसे👩‍⚕️ किसी दिन😇 बिछड़कर 😎गिनेंगे की🤠 क्या क्या हमने😏 पाया और 🙌आखिर क्या 😤खोया, 💯और तब लड़कर😉 कहेंगे खुदा 😎से सच नहीं❌ करवाना था तो तूने 😇हमें ये कम्बखत 🙌ख्वाब क्यों 🤗दिखाया.

सिर्फ🤗 में ही नहीं❌ जरा रुको 😎देखो चाहत 😍में आएंगे 😎तुम्हारे दीवाने🙌 कितने, 👩‍⚕️तुम्हारे साथ😉 हमें देखकर 💯डर जायेगे 🤠आये थे 😇जितने, 😉इसलिए कहतें है🙌 हमें भी😎 रखलो साथ 😉अपने, लेकिन 🤗तुम हो कि 😉हमें सिर्फ ओ😇 सिर्फ 😎दिखाती हो 💯जिंदगी साथ 🙌गुजारने के 😴सपने.

चुनौतियों 🤗से भरी 😉इस जिंदगी😤 में खुद 😎अकेले में😑 रोइये, लेकिन 🙌जब हो साथ 😎सबके तो सबको🤠 हसाईये😄, अपनों💯 के दिये 😏हुए गमों😄 में भुलाकर,😉 प्यार और😍 भाईचारे के😇 गीतों को 🙌गाते रहिये😎,

Hmne is javed akhtar ki image mai javed akhtar ki sabse anokhi aur pyaari shayari ko joda hai.
Javed akhtar ki sabse anokhi aur pyaari shayari hindi mai

ये🤗 कम्बखत 😎वक्त अक्सर 😉सीखा देता 💯है जिम्मेदारीयों 😑को निभाना ❤️मुश्किल में भी दिल को 😎मजबूत 💯बनाकर रखना😇 और अपना 🙌फर्ज को निभाते 🤠रहना.

न❌ तुझसे 👩‍⚕️कोई 😇शिकवा 😑थी और ❌नही, कोई😎 आस बस🔥 जाग रहें😉 थे रातों 🤗को आंखों👀 में आंसू 👀भरके🙌.

बरसों🤗 से किसी 😇के प्यार में 😍हम गुमशुदा🤠 से रहें, तो कुछ😎 अपने 💯हमसे खफा😤 से रहें, 👩‍⚕️जिसको प्यार😍 में गुमशुदा 😄थे उसकी 😤बेवाफ़ाई के 😉बाद हर किसी🤗 में सिर्फ 🙌उसको ढूंढते 💯ही रहे, मां 👩‍⚕️की दुआओं😇 में असर 🤠ही बहोत था, 😉हम जब भी😎 खुदकुशी🤠 करने निकले 🙌हर दफा मरने 😇से बचते रहे😎.

दोस्तों आपको बतादें की हमने इस ब्लॉग पोस्ट में कुछ ऐसी जावेद अख्तर की शायरी को जोड़ा है जिन्हें आपने पहले कभी नहीं पढ़ा होगा. 

दोस्तों जावेद अख्तर जैसे वो बड़े हुए उन्होंने अपने कैरियर के बारे में सोचना शुरू कर दिया और फिर वो मुम्बई आ गये फिर कुछ सालों तक संघर्ष किया, संघर्ष करते करते जावेद अख्तर शायरी भी लिखने लगे, और फिर ऊनकी मेहनत एक दिन रंग लाई उन्हें गीत लेखक, पटकथा लेखक (screenwriter) के रूप मैं काम मिलना शुरू हुआ फिर उन्होंने कई हिट फिल्मों की पटकथाएं लिखी जैसे कि हाथी मेरे साथी, अंदाज़, सीता और गीता, अधिकार, यादों की बारात, जंजीर, शोले जैसी गोल्डन जुबली फिल्मों की पटकथाएं लिखी, इसी के चलते उन्हें कई अवार्ड भी मिलें जिन्हें पाना एक आम इंसान का सपना होता है, जैसे कि उन्हें  1999 में उन्हें पद्मश्री पुरस्कार से नवाजा गया जो कि काफी बड़ा पुरस्कार माना जाता है, 

उसके बाद 2007 में उनको पद्मभूषण दिया गया उन्हें ऐसे और भी कई पुरस्कार दिए गए. इतनी काम करने के बावजूद जावेद अख्तर की शायरी में हमें किसी चीज़ की कमी नहीं दिखी.

दोस्तों अब बात करतें है उनके निजी जीवन के बारे में दोस्तों जैसे ही वो फेमस हुए तो उनकी मुलाकात हनी ईरानी जी से सीता और गीता के सेट पर हुई, दोस्तों हनी ईरानी जी भी एक अभिनेत्रि और एक पटकथा लेखिका थी फिर उन्होंने 21 मार्च 1972 को हनी ईरानी जी से शादी करली जिनसे उनके दो बच्चे भी हुए जिन्हें हम फरहान अख्तर और जोया अख्तर के नाम से पहचनते है. 

और फिर कुछ आपसी मसले की वजह से उन्होंने तलाक लेकर दूसरी शादी करने की सोची. दोस्तों जावेद अख्तर की शायरियां इस बीच भी छपती रही. और फिर कुछ दिनों बाद उन्होंने शबाना आजमी से शादी की जो कि एक मशहूर कवि की बेटी थी. दोस्तों ये पढ़कर कई लोगों को दुख होगा कि जावेद अख्तर एक नास्तिक है उनके जो बच्चें है उन्होंने उनको भी नास्तिक बनाया है. 

तन्हाई 😤और 😏आवारगी की🤠 बस्ती में 😑रहने वाला हूं, 🙌जिंदगी में 😎हुए इतने 😇बुरे हादसों के💯 बाद भी🤗 जैसे तैसे 👩‍⚕️जिंदा हूं, दोहज़ग 😤से क्यों😎 डरूं में सहाब😉 में तो जन्नत का 😄चमकता 😎सितारा हूं,

Is javed akhtar ki image mai hmne javed akhtar ki sabse anokhi javed akhtar ki gazal ko joda hai.
Javed akhtar ki gazal

अच्छे🤗 लोगों 😇को मरते😎 वक्त 🙌उनकी नेकी 😑काम 😉आती है, क्यों🤠 ऐसी बेहूदा😉 अफवाहें😎 फैलाते💯 हो, 😤बहोत बुरी 🙌मौतें नसीब😑 हुई है 🤠अच्छे😄 लोगों 😎को.  

 इसे भी पढ़ें : बशीर बद्र की शायरी

जनाब 😎हम तो 😄छोटे थे 🤠तब भी ऐसे 🤗ही अकेले💯 थे, सिर्फ 😉उदासियों के🙌 साथ खेले 😇थे, एक😏 तरफ मोर्चा 😉था बहते🤠 हुए आसुओंका😎, तो दूसरी😇 तरफ ज़माने🤗 से मिले गमों😤 के रैले थे,😏 खुशियां🙌 तो थी हर😎 किसी जेब😉 में लेकिन😄 हमारी जेबों में😎 सुराग थे, 😏आजकल थोड़ी🙌 सी मुश्किल 😇में लोग रोते😑 है, हम 💯तो अक्सर 😎मुश्किलों के😉 पहाड़ों को🙌 अकेले ढोते 🤠थे, ये कम्बखत😇 खुदकुशी क्या उस😉 वक्त हल बनती 🙌तब तो मौत के 🤗भी कई झमेले🤗 थे.

 Javed akhtar ki shayari urdu mai

जिस 🤗भी इंसा 😄पर भरोसा 🤠करता हूं 😎कुछ दिनों💯 बाद वो 😉भरोसेमंद नहीं❌ लगता, 🤠जिसे भी😑 देखो वो😤 अपना 🤗मतलब निकलने😇 में लगा है जनाब, हमें 🤗इस कम्बखत 🌍दुनिया में 😑अब कोई😎 अच्छा ❌नहीं लगता.

किसी😎 का घर🙌 जलता 🔥है तो 😄कम्बखत 🤠सारा जमाना🤗 देखता है 💯लेकिन जब😉 किसी का ❤️दिल जलता 🤗कोई नहीं❌ देखता.

जब😎 हम बच्चे🤠 थे तब💯 हर किसी 😉के हिस्से🙌 का वक्त 😇चुरा लेते😉 थे, 😑लेकिन अब 🤗जब बड़े😉 हुए दो 💯पल साथ😇 बैठने की❌ फुर्सत नहीं है.
रातों😇 को हमें🤗 सोने देती😉 नहीं है,❌ खुशियां😎 में मुस्कुराने 🙌देती नहीं है🤠 ये आदत 😄तुझे याद 🤠करने 😎की इतनी 😄भी अच्छी ❌नहीं 😇है.

Javed akhtar ki pyaari poetry 

मुझसे 🤗बिछड़ते बिछड़ते😤 ही सही 😏लेकिन वो👩‍⚕️ मेरी 😍मोहब्बत की😎 एक अच्छी💯 सी निशानी😄 दे गया, 😇ता उम्र मरहम 🙌लगाएंगे ऐसी 🤗जख्म दे गया,😄 उसके साथ 😉ये जिंदगी गुजारेंगे 💯ऐसी हसरत 😑थी लेकिन🤗 ये वक्त 🙌सिर्फ ओ 😉सिर्फ उसकी 🤠कहानी दे✍️ गया, चलो😏 वैसे भी 😤में प्यासा 🤗था कई सालों से🤠, कम से 😎कम वो मेरी 👩‍⚕️आँखों में 👀कभी खत्म ❌न होने वाला😤 तो पानी दे 😑गया😏.

Is javed akhtar ki image mai hmne javed akhtar ki sabse anokhi shayari ko joda hai.
javed akhtar ki gazal 

बुरे😇 वक्त में😉 अपने😄 हमसे दूरियां 🙌बना रहें हैं,😎 जिन के😉 लिए जान💯 दिया करते 😉थे हम 😎वो हमसे अपनी 😉जान बचाते 🤠रहे.

चलो😉 माना😇 कि तेरे 😑लिए 😎अनजान हूं, 😄लेकिन ये😎 जरूर 😉जान ले 👩‍⚕️तेरी रूह 😉का में💯 बाशिंदा 😎हूं.

तेरी👩‍⚕️ खुशियों 🤗में सभी 😇शरीक सभी 💯के कदम है,🤠 चार चांद 🙌लगाने तेरे 😎जश्न में 😄सिर्फ तेरी 👩‍⚕️माँ की मुस्कान कम 😇है.
अक्सर😇 हर किसी😎 को रुलाने🙌 के मौके 🙌ढूंढता है,🤗 ये ज़माना 😉इससे कहदो 💯कोई की हम 😎औरों जैसे❌ नहीं है हमसे😎 टकराने मत❌ आना. 

अगर😎 मोहब्बत की😍 मुझसे तो🤗 सिर्फ 😏ओ सिर्फ😤 दुःखों को👩‍⚕️ ही पाओगी,😎 मेरी उदासी😑 भरी. जिंदगी में🤠 टूट कर 😇बिखर जाओगी, 😎रोज़ रात आते😉 है इतने 🤗बुरे सपने🙌 की हमारे 😏साथ ठीक 😴से सो नहीं ❌पाओगी, 😍तुम्हारे इन 👩‍⚕️नशीली 😎आखों डूबना🤗 चाहूंगा लेकिन🙌 तुम ही 😎मेरे गमों 😇को देखकर 😑उनमें डूब 😎जाओगी.
इस जावेद अख्तर की इमेज मैं हमने जावेद अख्तर की सबसे अनोखी शायरी को जोड़ा है जो कि हिंदी में है.
जावेद अख्तर की सबसे अनोखी शायरी

आजकल😎 के ज़माने😑 में दुनिया 🌍की हर चीज़🤗 दुकान पर💯 है मिलती, 😤अपने 👩‍⚕️माता पिता😇 को संभाल😉 कर रखों😎 क्योंकि🤗 उनकी 🤠दुआयें 🌍दुनिया की💯 किसी 😉दुकान पर❌ नहीं मिलती.

मुझसे😇 बिछड़ते😄 वक्त उसकी👩‍⚕️ आँखों🙌 का काजल🤗 भी फैल 😤रहा है में😎 मुडमुड कर 😉गौर से 🤠देख रहा 🤗हूँ.

कुछ😎 ऐसी है😇 तेरी 🤗मौजूदगी 😉हमारी ✍️कहानी🤠 मैं, जैसे😉 एक प्यासे🙌 को होती 🤗है, आस💯 की.

बचपन😎 में जिये🤠 थे जिंदगी🤗 के 😉पल जैसे 🙌बड़े हुए💯 जिंदगानी😉 को बस😎 काटना 🤠सिख 🙌गये😉.

 Javed akhtar ki ansuni shayari hindi mai

जनाब😇 अगर 😎किसी दूसरे 😉की वजह😤 से दुनिया🌍 को उड़कर 🙌दिखाओगे 🤠तो किसी😎 दिन अपने💯 परों से🤗 उड़ने का😇 हुनर भूल 😉जाओगे.

उसकी👩‍⚕️ गलियों 🤗में भी 😉अब वो नहीं ❌जावेद, 💯हम भी 🤗अपना 😇सर झुकाए 😉ही गली🤠 से गुजर🙌 निकल 😇जाते हैं😎.

आज😇 पहली 😎दफा उसकी👩‍⚕️ आखों ने👀 हमारा🤠 ख्वाब 😤देखा है, 😉इस ख्वाब 😎को दिखाने💯 के लिए🙌 हमने हज़ारों🤗 रातों को😇 रोकर 🤠बर्बाद किया😇है😎.

आज🤗 उसने हमें😎 बेवजह😇 छोड़ दिया🤠 और वो🙌 एक दिन था😇 जब हमारे😎 साथ रहकर💯 वजह बेवज़ह🤠 मुस्कुराती 🤗थी.

लाख😎 हसरतें🤠 थी इन 👀आखो में😇 मगर तुम्हे 🙌किसी 🤗और कि😉 बाहों 💯में देख😑 हमारी 😉आखों की👀 रोशनी😎 तक न❌ रही. 

इसे भी पढ़ें : निदा फाजली की शायरी 

गम😤 अक्सर 😑अपनाता 💯है परायों को🤠, पल पल😄 रुलाता है 😍मोहब्बत पे😉 गुरुर करने 😇वालों को, 🙌ये खुशियां 🤗ये मुस्कुराहट😄 इनमें दिल❤️ नहीं लगता❌, अब 😑तो अंधेरे 😤और उसकी 👩‍⚕️यादों में ही😉 अच्छा लगता 🙌है हम जैसों 😎को.

इस जावेद अख्तर की तस्वीर मैं हमने जावेद अख्तर की सबसे अनोखी ग़ज़ल को जोड़ा है जो कि हिंदी में है.
जावेद अख्तर की ग़ज़ल
रहता😎 है पास🤠 मगर दिल ❤️उसकी 👩‍⚕️और चाहत🤗 करता है 💯और वो हमें😇 देखकर🤗 वजह 😉बेवजह अपनी 😉सूरत छुपात😎है.

में 😎अपनी 🤠जिंदगी 😎तुझपर 😇न्यौछावर 😉करता हूं 😤और तु 😄कहता है😎 कि मुझे💯 आशिकी ❌नहीं आती.

आज😎 जिस 😇दीवार पर 🤠उसकी 👩‍⚕️बेवाफ़ाई 😑के निशा 🙌है, कल 😤तक वहां 😄उसकी 😎मोहब्बत के😍 अफसाने🤗 हुआ 🙌करते 😎थे.

तुझे 👩‍⚕️यूं तडपता 😎देख सभी,✍️ अपनी😉 अपनी 🙌मौत की 🤠दुआएं करेंगे, 💯ए खुदा 😄 उसे इतना😤 भी मत 🤔सताया कर.

कुछ 😎सालों पहले😉 यही पर🤠 हुआ 🙌था ऐलान😎, की😇 ये हमसे जुदा😉 होकर बर्बाद🙌 होगा और 💯वहीं पर आबाद😇 होगा ये 🌍जहां.

दोस्तों आपको हमारी यह जावेद अख्तर शायरी की ब्लॉग पोस्ट कैसी लगी हमें कॉमेंट करके जरूर बताएं दोस्तों आप इस ब्लॉग पोस्ट को उन लोगों को भी भेज सकते है जो कि जावेद अख्तर की शायरी के दीवाने है ऐसी महान शक्सियत को हमारी टीम की और से सेल्यूट हैं धन्यवाद.

Post a comment

0 Comments